Browntop Millet in Hindi | Health Benefits of Browntop Millet

दोस्तों आज का लेख “Browntop Millet” के बारे में है। इस लेख में आप जान पाएंगे कि इसमें कौन कौन से पोषक तत्व (Browntop Millet Nutritional Value) होते है। Browntop Millet के फायदे (Browntop Millet Benefits in Hindi) और उपयोग (Use of Browntop Millet in Hindi) क्या है? Browntop Millet के नुकसान (Side Effects of Browntop Millet) क्या है? तो चलिए शुरू करते है।

Contents show

ब्रॉउनटॉप मिलेट क्या है? – What is Browntop Millet in Hindi

हिंदी में Browntop Millet को मक्रा या मुरात कहते है। मुरात (Browntop Millet) बाजरे की ही एक प्रजाति है, जिसे Browntop Millet के नाम से जाता है। इसे घास की श्रेणी में गिना जाता है। Browntop Millet को वैज्ञानिक तौर पर Poaceae (Grass Family) में रखा जाता है। मक्रा या मुरात का वैज्ञानिक नाम Browntop Millet Scientific Name “Brachiaria ramosa” है।

browntop-millet-in-hindi

मक्रा या मुरात का ऊपरी भाग भूरे रंग का होता है, इसलिए इसे Browntop Millet कहा जाता है। फसल को तैयार होने के बाद ब्राउनटॉप मिलेट पौधे का ऊंचाई 10 से 70 सेंटीमीटर तक होती है। इसके पत्तों का लंबाई 2 से 25 सेंटीमीटर तक और चौड़ाई 4 से 14 मिलीमीटर तक होती है। ब्राउनटॉप मिलेट के पत्तों के टहनियों का लंबाई 3 से 10 सेंटीमीटर तक होता है। मक्रा या मुरात की खेती के लिए ना ज्यादा गर्म ना ज्यादा ठंडा वातावरण अनुकूल माना जाता है। Browntop Millet का फसल तैयार होने में 60 से 90 दिन का समय लगता है। Browntop Millet खेती के लिए काफी कम मात्रा में पानी की जरूरत होती है। इसकी फसल हर तरह की जमीन पर भी आसानी से की जा सकता है।

ब्रॉउनटॉप मिलेट की उत्‍पत्ति – Origin of Browntop in Hindi

ब्राउनटॉप की उत्पत्ति दक्षिण – पूर्व एशिया मानी जाती है। ब्राउनटॉप मिलेट अफ्रीका, अरब, चीन और ऑस्ट्रेलिया में भी उगाया जाता है। Browntop Millet को 1915 में भारत से संयुक्त राज्य अमेरिका में पेश किया गया था। अमेरिका में यह मुख्य रूप से दक्षिण-पूर्व में चारागाह घास के लिए उगाया जाता है।

और पढ़े: Siridhanya Millets in Hindi

ब्रॉउनटॉप मिलेट की खेती कहाँ होती है ? Browntop Millet cultivation in Hindi

ब्राउनटॉप मिलेट की खेती दक्षिण – पूर्व एशिया, अफ्रीका, अरब, चीन और ऑस्ट्रेलिया में होती आ रही है। Browntop Millet खेती अब भारत ,बांग्लादेश ,भूटान ,नेपाल ,म्यांमार,यमन ,जिम्बाब्वे में भी की जाती है। सबसे ज्यादा भारत में ब्राउनटॉप मिलेट की खेती दक्षिण भारत ,उत्तर प्रदेश ,पंजाब ,राजस्थान ,महाराष्ट्र और गुजरात में की जाती है।

और पढ़े: Barnyard Millet Benefits in Hindi

ब्रॉउनटॉप मिलेट की खेती भारत में कैसे होती है ? Browntop Millet cultivation in India

ब्रॉउनटॉप मिलेट की खेती अप्रैल के मध्य में तथा मई और जून के अंत में की जाती है। भारत में तकरीबन एक एकड़ में 7-8 क्विंटल अनाज का उत्पादन होता है। ब्रॉउनटॉप की फसल को तैयार होने में औसतन 80-90 दिनों का समय लगता है।

और पढ़े: Proso Millet Benefits in Hindi

ब्रॉउनटॉप मिलेट को हिंदी में क्या कहते हैं – Browntop Millet Meaning in Hindi

ब्रॉउनटॉप मिलेट को अलग अलग देशों में अलग-2 नामों से जाना जाता है। भारत में भी अलग-2 राज्यों में इसे विभिन्न नामों से जाना जाता है। Browntop Millet in Hindi में “छोटी कंगनी” (Choti Kangni) कहाँ जाता है। तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, कर्नाटका राज्यों में इसे पालापुल (Palapul), कोराले (Korale), अंडकोरा (Andakorra) नाम से जाना जाता है। भारत के अलग-अलग राज्यों में Browntop Millet को निम्न नामों से जाना जाता है.. (Browntop Millet in Hindi)

  • Tamil: पालापुल (Palapul)
  • Kannada: कोराले (Korale)
  • Telugu: अंदकोरा (Andakorra)
  • Hindi: छोटी कंगनी (Choti Kangni), मक्रा या मुरात
  • Punjabi: हरी कंग (Hari Kang)
  • Nepali: बांसपाते (Banspate)

और पढ़े: Kodo Millet Benefits in Hindi

आगे हम जानेगे कि Browntop Millet में क्या क्या पोषक तत्व (Browntop Millet Nutritional Value in Hindi ) पाए जाते है।

Browntop Millet मिलेट में पाए जाने वाले पोषक तत्‍व – Browntop Millet Nutritional Value in Hindi

Browntop Millet में प्रचुर मात्रा में पोषक तत्‍व (Browntop Millet Nutritional Value) कार्बोहाइड्रेट, मैग्‍नीशियम, प्रोटीन, मैगनिज, कैल्शियम, थयामिन, विटामिन, आयरन, फास्‍फोरस, फाइबर तथा रिबोफ्लेविन पाए जाते है।

डॉ खादर वली के अनुसार 100gm Browntop Millet में पाए जाने वाले पोषक तत्‍व (Nutrient Content in Browntop Millet) इस प्रकार से हैं-

नियासिन Niacin (B3) 18.5mg

रिबोफ्लेविन Riboflavin (B2) 

0.027mg

थयामिन Thiamine (B1)

3.2mg

केरोटिन Carotene

0ug

आयरन / इस्‍पात Iron 

0.65mg

कैल्शियम Calcium 

0.01g

फास्‍फोरस Phosphorous 

0.47g

प्रोटीन Protein 

11.5g

मिनरल / खनिज धातु Mineral 

4.21g
कार्बोहाइड्रेट Carbohydrates 69.37g
फाइबर Fibers 12.5g
कार्बोहाइड्रेट फाइबर अनुपात Carbohydrate Fibers Ratio5.54

और पढ़े: Little Millet Benefits in Hindi

ब्रॉउनटॉप मिलेट का उपयोग होने वाले भाग- Beneficial Part of Browntop Millet in Hindi

Browntop Millet का जरूरत और उपयोग के अनुसार आप इन भागों का उपयोग कर सकते हैं।

  • दानें (Grains)
  • बीज
  • पंचांग

और पढ़े: Foxtail Millet Benefits in Hindi

ब्रॉउनटॉप मिलेट खाने के फायदे – Benefits of Browntop Millet in Hindi

ब्रॉउनटॉप मिलेट खाने के फायदे कई है जो इस प्रकार से है –

Barnyard Millet में प्रचुर मात्रा में पोषक तत्‍व (Barnyard Millet Nutritional Value) कार्बोहाइड्रेट, मैग्‍नीशियम, प्रोटीन, मैगनिज, कैल्शियम, थयामिन, विटामिन, आयरन, फास्‍फोरस, फाइबर तथा रिबोफ्लेविन पाए जाते है।

1- डॉ खादर वली के अनुसार ये अंडाशय,पेट, गठिया, B.P, थायराइड, आाँखों की समस्याओं और मोटापे की समस्या के समाधान के लिए उपयोगी हैं। ब्रॉउनटॉप मिलेट वे फिशर, अल्सर, पाइल्स,फिस्टुला और मष्स्तटक, रक्त, स्तन, हड्डडयों,पेट, आतं और त्वचा के कैंसर के इलाज के लिए भी उपयोगी हैं।

और पढ़े: Millet Diet Plan in Hindi

2- कैंसर से बचाव में सक्षम है ब्रॉउनटॉप मिलेट Benefits of Browntop Millet in Cancer

ब्रॉउनटॉप में जबरजस्त एंटी कैंसर गुण मौजूद होता है। इस मिलेट में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स और विटामिन B-17 कैंसर से रक्षा करने में सहायक हैं। ब्रॉउनटॉप के सेवन से ब्रेस्ट कैंसर,आंत का कैंसर, त्वचा का कैंसर, ब्लड कैंसर तथा पेट का कैंसर होने की सम्भावना बहुत कम हो जाती है। Browntop Millet में क्षारीय गुण होते है जो इसे कैंसर में खाने योग्य अनाज बनाता है।

और पढ़े: Keto Diet in Hindi

3- शरीर को साफ करता है ब्रॉउनटॉप मिलेट Browntop Millet Detoxify the body

शरीर को Detoxify करने के लिए ब्रॉउनटॉप मिलेट एक उत्तम आहार है। Browntop Millet में फाइबर की मात्रा 12.5g/100g होती है जो सभी अनाजों की तुलना में ज्यादा है। ब्रॉउनटॉप में मौजूद घुलनशील फाइबर रक्त में घुलकर पुरे शरीर को साफ़ करते हैं। ब्रॉउनटॉप में मौजूद अघुलनशील फाइबर आंत को साफ़ करने का काम करते हैं। पेट सम्बन्धी गम्हीर समस्यायों से छुटकारा पाने के लिए ब्रॉउनटॉप मिलेट को अम्बालि / फर्मेन्टेड ब्रॉउनटॉप मिलेट के रूप खाना चाहिए। यह आंत और रक्त के साथ साथ पूरी बॉडी से विषाक्त पदार्थ को बाहर निकलने में मदद करता है।

और पढ़े: NICE Protocol in Hindi

4- शरीर को मजबूत और निरोग बनाता है ब्रॉउनटॉप मिलेट Browntop Millet use for strong and disease free body

ब्रॉउनटॉप में प्रोटीन Protein 11.5g/100g होता है। इसीलिए इसे प्रोटीन का एक अच्छा अच्छा श्रोत माना जाता है। इसमें प्राप्त प्रोटीन और एमिनो एसिड शरीर के द्वारा पूरी तरह अवशोषित कर लिया जाता है। जिससे शरीर की मांसपेशी मजबूत होती है और शरीर हृष्ट पुष्ट बनता है। ब्रॉउनटॉप शरीर को ऊर्जावान बनाये रखता है तथा हड्डियों को मजबूत बनाने में भी मदद करता है। छोटे बच्चों के लिए भी ब्रॉउनटॉप एक अच्छा अनाज है। इसके सेवन से उनका सही विकास होता है।

और पढ़े: Three-Step Flu Diet in Hindi

5- हृदय रोग से बचाता है ब्रॉउनटॉप मिलेट Browntop use for healthy heart

Browntop Millet में फाइबर की मात्रा 12.5g/100g होती है जो कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित रखने में सक्षम है। ,ब्रॉउनटॉप ब्लड प्रेशर को बढ़ने से रोकता है तथा इसमें मौजूद एमिनो एसिड ह्रदय की मांसपेशी को मजबूती प्रदान करते हैं। ब्रॉउनटॉप मौजूद पोटेशियम ,फाइबर और मैग्नीशियम भी ह्रदय को स्वस्थ रखने मेंसहायक होते है।

और पढ़े: DIP Diet Plan in Hindi

6- डायबिटीज में फायदेमंद है ब्रॉउनटॉप मिलेट Benefits of Browntop in Diabetes Cure

ब्रॉउनटॉप में फाइबर का उच्च मात्रा होता है तथा प्रति 100 ग्राम ब्रॉउनटॉप केवल 34 GL (ग्लाइसेमिक लोड) शरीर को प्रदान करता है। Browntop में मौजूद फाइबर इसके ग्लूकोज को रक्त में धीरे धीरे रिलीज़ करता है।जिस कारण शुगर की मात्रा नियंत्रण में रहता है। इसके नियमित सेवन पैंक्रियास भी सुचार रूप से कार्य करता करता है।

7- नशे से छुटकारा दिलाने में सहायक है ब्रॉउनटॉप मिलेट

ब्रॉउनटॉप मिलेट शराब, तम्बाकू,सिगरेट जैसे नशे से छुटकारा दिलाने में सहायता करता है।

8- ग्लूटिन मुक्त अनाज है ब्रॉउनटॉप मिलेट Gluten free grain Browntop 

जिन लोगों को ग्लूटेन एलर्जी है या सेलियक डिजीज है जोकि गेहू के इस्तेमाल के कारण होता है। उन्हें ब्रॉउनटॉप अपने आहार में शामिल करना चाहिए। गेहू में अधिक मात्रा में ग्लूटेन पाया जाता है जो अग्न्याशय पर बुरा प्रभाव डालता है। ब्रॉउनटॉप मिलेट ग्लूटेन मुक्त अनाज है और इसमें प्रचुर मात्रा में पोषक तत्व मौजूद होते है।

ब्रॉउनटॉप मिलेट इस्तेमाल कैसे करें – How To Use Browntop Millet

ब्रॉउनटॉप मिलेट को इस्तेमाल करने से पहले 8 से 10 घंटे तक भिगो कर रखना चाहिए। ऐसा करने से ब्रॉउनटॉप में मौजूद फाइबर पानी सोखकर नरम हो जाते हैं। इससे यह पचने और पकने में आसान हो जाता है।

जब भी किसी Millet का इस्तेमाल कर रहे हो चाहे वो Little Millet हो Kodo Millet हो या कोई भी Millet हो एक समय में एक प्रकार का ही मिलेट इस्तेमाल करना चाहिए। मिक्स करने से मिलेट ठीक प्रकार से कार्य नहीं करते है। इसीलिए जो भी मिलेट का स्तेमाल करे उसे कम से कम 3 दिनों तक जरूर करे।

ब्रॉउनटॉप मिलेट इस्तेमाल करने में सावधानी How to use Browntop Millet

अगर आप ब्रॉउनटॉप मिलेट से आहार बनाने की सोच रहे है, तो इसे पकाने से पहले 6 से 8 घंटे के लिए पानी में भिगो देना चाहिए। इससे ब्रॉउनटॉप में मौजूद फाइबर पानी सोखकर नरम हो जाते हैं। इससे यह पचने और पकने में आसान हो जाता है।

एक से अधिक प्रकार के मिलेट को आपस में मिक्स करके नहीं पकाये। ब्रॉउनटॉप मिलेट या अन्य सिरिधान्य मिलेट का आटा तैयार करने से पहले उसे 6 से 8 घंटे पानी में भिगोकर धूप में अच्छी तरह सूखा लेना चाहिए। जो भी मिलेट इस्तेमाल करे उसे कम से कम 3 दिनों तक लगातार खाना चाहिए।

ब्रॉउनटॉप मिलेट की अम्ब्ली का सेवन Browntop Millet Ambali जिन्हें पेट सम्बन्धी गम्हीर समस्या हो उन्हें 9 सप्ताह तक ब्रॉउनटॉप मिलेट तथा अन्य पॉजिटिव मिलेट की ambali (अम्बालि) बनाकर ही खाना चाहिए। यह फर्मेन्टेड मिलेट होता है। 9 सप्ताह के बाद वे इसकी खिचड़ी ,उपमा ,बिरयानी ,डोसा ,इडली आदि भी खा सकते हैं।

निष्‍कर्ष – Conclusion

आशा है इस लेख के माध्‍यम से आप Browntop Millet के फायदें (Browntop Millet Benefits) को अच्‍छी तरह से जान चुके होंगे। यदि यह जानकारी आपको अच्‍छी लगी हो तो कृपया अपनी प्रतिक्रिया Comment Box में जरूर दें। इस जानकारी को अपने मित्रों और परिवार वालों के साथ जरूर Share करें। ताकि उनको भी फायदा मिल सके।

धन्यबाद!

1 thought on “Browntop Millet in Hindi | Health Benefits of Browntop Millet”

  1. इसमें दिए गए सभी उपचार काफी लाबदायक है और इससे शरीर में काफी बदलाव भी आते है।

    Reply

Leave a Comment